वचन किसे कहते है । वचन के भेद, परिभाषा, उदाहरण

वचन हिंदी व्याकरण का एक बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यदि किसी वाक्य में वचन की जरा सी भी गलती हो जाने पर पूरा वाक्य ही खराब हो जाता है हालांकि बचपन में वचन के बारे में अच्छी तरह से पढ़ाया जाता है लेकिन फिर भी बहुत से ऐसे लोग है जो आज भी वचन को लेकर थोड़े कंफ्यूज रहते हैं इसलिए आज हम इस लेख के माध्यम से वचन किसे कहते हैं वचन के कितने भेद हैं इन सब के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे थोड़ी देर किस बात की चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं वचन से संबंधित सभी अहम चीजें।

वचन किसे कहते

हिंदी व्याकरण में किसी भी संज्ञा या सर्वनाम विशेषण इत्यादि में जो शब्द या वाक्य संख्या का बोध करवाता है उसे वचन कहते हैं यदि आसान भाषा में कहें तो किसी भी संज्ञा सर्वनाम विशेषण क्रिया इत्यादि वाक्यों मेष संख्या के बारे में बताया जाता है उन्हें वचन कहते हैं यानी कि वचन के जरिए ही हम किसी संख्या का अनुमान लगा सकते हैं

वचन के प्रकार

यदि हिंदी भाषा की बात करें तो वचन के दो भेद होते हैं

एकवचन

बहुवचन

लेकिन यदि संस्कृत भाषा की बात की जाए तो वचन के कुल तीन भेद होते हैं एकवचन, द्विवचन और बहुवचन चूँकि हम हिंदी व्याकरण के बारे में जानकारी प्राप्त कर रहे हैं इसी वजह से हम यहां हिंदी के दोनों वचनों के बारे में विस्तार से जानेंगे

एकवचन किसे कहते हैं

वैसे वाक्य या शब्द जिनमें किसी भी वस्तु आदि मैं केवल एक संख्या का बोध होता है उसे एक वचन कहा जाता है जैसे कि लड़का लड़की कपड़ा बिल्ली जूता सूरज इत्यादि।

 बहुवचन किसे कहते हैं

वैसे वाक्य शब्द जिनमें किसी भी वस्तु इत्यादि एक से अधिक संख्या का बोध होता है उसे बहुवचन कहा जाता है जैसे कि भाइयों बिल्लियां जूते लड़के लड़कियां

ऊपर दिए गए उदाहरण में केवल एक भाई बिल्ली लड़का या लड़की के बारे में बात ना होकर बल्कि एक से अधिक भाई बिल्ली लड़का या लड़की के बारे में बात किया जा रहा है इसलिए इसे बहुवचन कहा जाएगा

हिंदी में वचनों का प्रयोग कैसे होता है 

हिंदी ऐसी भाषा है जिनमें कभी-कभी वचनों की अदला बदली देखने को मिल ही जाती है हालांकि यह आज के आधुनिक समय की भाषा में काफी आम बात है हिंदी में कई बार ऐसा होता है एक वचन की जगह बहुवचन देखने को मिल जाती है ऐसा इसलिए ताकि वाक्य को आदर्श सहित दर्शाया जा सके आइए इसे कुछ एक उदाहरण द्वारा हम अच्छे से समझते हैं

उदाहरण

पंडित जवाहरलाल नेहरू बहुत महान पुरुष थे

विनोद सर आज नहीं जाएंगे

ऊपर दिए गए वाक्यों में आप देख सकते हैं कि एक वचन की जगह दो वचन का प्रयोग किया गया है, ताकि वाक्यों में आदर्श या आदर की भावना प्रकट हो सके बदलते दौर में हिंदी भाषा में भी कई बदलाव आए हैं जैसे कि आज कई जगह की जगह वे शब्द का प्रयोग किया जाता है।

 इतना ही नहीं मैं की जगह हम जैसे शब्द का भी प्रयोग किया जाता है जैसे कि

आज जब प्रधानमंत्री आए तब वे बहुत अच्छे दिखाई दे रहे थे।

 कक्षा खत्म नहीं हुई कि अध्यापक ने कहा हम जा रहे हैं

ऊपर दिए गए वाक्यों में भी हम देख सकते हैं कि किस तरह एक वचन की जगह बहुवचन का भी इस्तेमाल किया गया है।

अंतिम शब्द

मुझे उम्मीद है कि आज का यह लेख वचन किसे कहते हैं आपको अच्छी तरह से समझ आ गया होगा यदि आपको इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न पूछते हैं या कोई राय देनी है अपने कमेंट सेक्शन में कमेंट करके दे सकते हैं और साथ ही यदि आपको यह लेख पसंद आया अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *